इंदौर9 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

इंदौर हाईकोर्ट ने डेली कॉलेज को फटकार लगाते हुए शिक्षकों की सैलरी की डिटेल मांगी है।

  • कोर्ट में लगाई याचिका में निजी स्कूलों द्वारा शिक्षकों को पूरी सैलरी नहीं दिए जाने का मुद्दा उठाया है

हाईकोर्ट की इंदौर खंडपीठ ने एक जनहित याचिका की सुनवाई करते हुए डेली कॉलेज को आदेश दिया कि कॉलेज प्रबंधन हफ्ते भर में शपथ पत्र देकर कोर्ट को बताए कि एक जनवरी 2020 से अब तक किस शिक्षक को कितनी सैलरी दी गई है। कोर्ट ने चेतावनी भरे लहजे में कहा है कि आदेश का पालन नहीं हुआ तो कोर्ट इसे गंभीरता से लेगी।

हाईकोर्ट ने यह आदेश याचिका की सुनवाई करते हुए दिया है जिसमें निजी स्कूलों द्वारा शिक्षकों को आवंटित क्वार्टर खाली कराए जाने और शिक्षकों को पूरी तनख्वाह नहीं दिए जाने का मुद्दा उठाया गया है। सोमवार को सुनवाई के दौरान याचिकाकर्ता ने कोर्ट को बताया कि डेली कॉलेज प्रबंधन द्वारा अभिभावकों से पूरी फीस वसूलने के बावजूद शिक्षकों को पूरी तनख्वाह नहीं दी जा रही है।

इस पर कोर्ट ने आदेश दिया कि डेली कॉलेज प्रबंधन हफ्ते भर में बताए कि एक जनवरी 2020 से अब तक शिक्षकों को कितनी तनख्वाह दी गई। पिछली सुनवाई पर हाईकोर्ट ने निजी स्कूलों के शिक्षकों से फिलहाल क्वार्टर खाली कराने पर रोक लगाते हुए स्कूलों से कहा था कि वे वहीं किराया लें जो एक जनवरी से पहले ले रहे थे।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here