इंदौर8 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

indore high court

  • नगर निगम ने जमीन अपनी बताकर लगाया था बेदखली का केस

लैंटर्न होटल की 3 एकड़ से ज्यादा जमीन के मामले में नगर निगम को शुक्रवार को बड़ा झटका लगा है। इस जमीन पर कब्जे को लेकर नगर निगम की कोशिशों पर हाईकोर्ट ने स्टे दे दिया है। हाईकोर्ट ने नगर निगम को फटकार भी लगाई है।

रेसकोर्स रोड स्थित लैंटर्न होटल की जमीन को नगर निगम ने अपनी बताई थी। लैंटर्न होटल की लगभग 20 करोड़ की जमीन की बिक्री के बाद इस पर नई बिल्डिंग बनाने का काम शुरू हो चुका है। वहीं नगर निगम ने इस जमीन की छानबीन तीन माह पहले शुरू की थी। उस समय नगर निगम ने पाया था कि खसरों में ये जमीन नगर निगम के नाम पर है। उसके बाद निगम ने दो माह पहले जिला प्रशासन के पास जमीन पर कब्जा लेने के लिए लोक बेदखली अधिनियम के तहत केस दायर किया था। इस केस के खिलाफ जमीन खरीदने वाली एमएसडी कंपनी ने हाई कोर्ट में अपील दायर करते हुए नगर निगम और जिला प्रशासन की कार्रवाई को गलत बताया था। इस अपील पर शुक्रवार को हाई कोर्ट में सुनवाई हुई। इस दौरान हाई कोर्ट ने नगर निगम की कार्रवाई पर स्टे जारी कर दिया है। वहीं इस मामले में नगर निगम को नोटिस जारी करते हुए जवाब मांगा है।

हाईकोर्ट ने नगर निगम को इस दौरान फटकार भी लगाई। कोर्ट ने साफ कहा कि 70 साल पहले यदि जमीन के खसरे नगर निगम के नाम पर दर्ज हुए थे, लेकिन कब्जा नहीं लिया गया था। अब नगर निगम कैसे इस पर अपना कब्जा बता सकता है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here