• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • The Party Organization Gave Notice And Asked, With Whose Permission Were They Protesting Against The Jabalpur RTO, Two Replies In Three Days

जबलपुर39 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

एजेंटों संग आरटीओ गेट पर इस धरने के चलते मिला नोटिस

  • विधायक सहित पूर्व मंत्री भी रह चुके हैं हरेंद्रजीत सिंह बब्बू
  • संगठन की ओर से नगर अध्यक्ष ने जारी किया शोकॉज नोटिस

भाजपा नेता एवं पूर्व मंत्री हरेंद्रजीत सिंह बब्बू को पार्टी संगठन ने रविवार को शोकॉज नोटिस जारी किया। दरअसल ये नोटिस बब्बू को बिना पार्टी की अनुमति लिए आरटीओ के खिलाफ धरना-प्रदर्शन करने पर जारी किया गया है। संगठन की ओर से भाजपा नगर अध्यक्ष जीएस ठाकुर ने शोकॉज नोटिस जारी कर तीन दिन के अंदर जवाब मांगा है। अनुशासन का ये डंडा संभागीय संगठन मंत्री शैलेंद्र बरुआ के निर्देश पर चला। इसके साथ ही पार्टी ने साफ कर दिया कि संगठन अनुशासन को तोडऩे की हिमाकत कोई न करे।

संगठन को दरकिनार करने का लगता रहा है आरोप
पश्चिम विधानसभा के पूर्व विधायक हरेंद्रजीत सिंह बब्बू पर लगातार संगठन को दरकिनार कर मनमानी करने का आरोप लगता रहा है। संगठन के बगैर अनुमति आंदोलन करने को पार्टी ने गंभीरता से लिया है। बब्बू ने आरटीओ के खिलाफ धरना-प्रदर्शन किया था। नगर अध्यक्ष जीएस ठाकुर ने कहा कि बब्बू पार्टी के वरिष्ठ कार्यकर्ता हैं। पश्चिम विधानसभा से लगातार विधायक और प्रदेश शासन में मंत्री भी रह चुके हैं। इसी वजह से संगठन ने हमेशा उनसे पार्टी के अनुशासन की अपेक्षा की है। पर उन्होंने कई अवसरों पर संगठन के अनुशासन को खंडित किया।

संगठन की अनुमति के बिना आंदोलन किए
पार्टी के वरिष्ठ नेताओं और पदाधिकारियों के समझाने के बाद भी जिला और प्रदेश संगठन की अनुमति के बिना आंदोलन किए। वर्तमान में वह आरटीओ जबलपुर के विरुद्ध आंदोलन का नेतृत्व कर रहे हैं। जबकि इस आंदोलन की अनुमति संगठन से नहीं ली है । संगठन के अनुशासन को भंग करने पर संभागीय संगठन मंत्री शैलेन्द्र बरुआ ने स्पष्टीकरण लेने का निर्देश दिया था। तीन दिन में उन्हें कारण बताने के लिए नोटिस में कहा गया है।
ये है पूरा मामला
भाजपा नेता एवं पूर्व विधायक हरेंद्रजीत सिंह बब्बू आरटीओ को हटाने की मांग पर अड़े हैं। उनका आरोप है कि आरटीओ कार्यालय में बिना पैसे दिए कोई काम नहीं होता। प्रभारी आरटीओ संतोष पॉल भ्रष्ट अधिकारी हैं। हर हाल में उनका निलंबन होना चाहिए। वहीं आरटीओ ने बब्बू के खिलाफ आईजी भगवत सिंह चौहान को एक शिकायत दी है। इसमें उन्होंने बब्बू और उनके साथियों पर धमकाने सहित रुपए की मांग करने का आरोप लगाया है। दावा किया है कि पूर्व मंत्री के रिश्तेदार के वाहन पर कार्रवाई कर राजस्व जमा कराने पर वह दुर्भावनापूर्ण आरोप लगा रहे हैं। इसी विवाद में हरेंद्रजीत सिंह ने एजेंटों संग आरटीओ गेट पर धरना दिया था।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here